Gulzar Sad Shayari | Gulzar Shayari in hindi - shayarivilla

 GULZAR SHAYARI HINDI



Short Introduction :


Gulzar¸ भारत के बेहतरीन फिल्मकारों और गीतकारों में से एक हमेशा दिल से कवि रहे हैं, जो उर्दू पंजाबी और कई अन्य हिंदी बोलियों में लिखते हैं। उन्हें अक्सर  ‘Gulzar Saab’ के रूप में प्रस्तुत किया जाता है। Gulzar का असली नाम Saɱpooran Singh Kalra है। उनका जन्म 18 अगस्त 1934 को पाकिस्तान में झेलम जिले में हुआ था। click here to read more.

Here we are with one of the finest collection of Gulzar Shayari in hindi / Gulzar Shayari Two Line / Gulzar Shayari on Smile / Gulzar sad Shayari / Gulzar Shayari on Love with might blow up your mind. So, stay tuned till end of this article to feel the emotions of Gulzar Saab which he is trying to show through his writings.

  

  __________________


Gulzar Shayari Two Line


एक ख्वाब था जो आँखों से बिखर गया कोई फिर बहुत करीब से आकर गुजर गया

असली कीमत तोह दो ही बार समझ आती है,
एक उसे पाने से पहले और दूसरा उसे खोने के बाद


चुभता तो मुझे भी है बहुत कुछ, एक तीर की तरह
लेकिन फिर भी मैं खामोश हूँ अपनी तक़दीर की तरह |


Gulzar Shayari Two Line


.....


Gulzar Shayari on Smile


कोशिश तो बहुत की समझदार बनने की लेकिन ख़ुशी हमेशा बेवकूफियां करने से ही मिली..


धड़कन तेज हो गयी आज जब उसे देखा तो चेहरा तो वही था मगर अफ़सोस वह शख्स बदल चूका था |


Gulzar Shayari on Smile


.....

Gulzar Romantic Shayari


कभी इसका दिल रखा कभी उसका दिल रखा,
इस कश्मकश में भूल गए कि अपना दिल कहाँ रखा..


मोहब्बत अगर तुम पर मरने का नाम है  ,
तो बेशक हम तुम पर मरते हैं.


पहले सौ बार कभी इधर कभी उधर देखा है
तब कहीं डर के तुझे एक बार देखा है |


Gulzar Romantic Shayari


.....

Gulzar Shayari Motivational


मेरा यही अंदाज़ ज़माने भर को खलाता है इतनी ठोकरें बाद भी या सीधा कैसे चलता है 


Gulzar Shayari on Zindagi
Gulzar Shayari on Zindagi



.....


Gulzar Sad Shayari


अब अगर कुछ बाकी रह गया है तो वो बस तुम्हारी यादें हैं ,,
जो वक़्त वक़्त पर मुझे तुम्हारे न होने का एहसास कराती है ..

ना चाहकर भी मेरे लब पर ये फ़रियाद आ जाती है
ए चाँद सामने न आ किसी की याद आ जाती है..


वह कहानी थी चलती रही
मैं किस्सा था ख़तम हुआ !!



वक़्त की बात है, वक़्त पर ही छोड़ देते हैं
वक़्त ने मिलाया था, चलो वक़्त को ही इल्ज़ाम देते हैं |

अजीब जुल्म करती है तेरी यादें मुझ पर ,
सो जाऊं तो उठा देती है ,,
उठ जाऊं तो रुला देती है..


Gulzar Sad Shayari


.....

Gulzar Shayari on Dosti

दुःख और दर्द को भुलाया जा सकता है पर अपनों से खाया हुआ धोखा कभी नहीं |

.....

Gulzar Shayari on Love


मोहब्बत में भरोसा होना चाहिए
शक तो पूरी दुनिया करती है |

तुम्हे मुझसे लड़ने का हक है
छोड़ने का नहीं

जिंदगी के हर मोड़ पर तुम साथ रहना
चाहे दूर रहो पर हमेशा दिल के पास रहना

जरुरी नहीं की हर शिकायत शब्दों से ही की जाएं कुछ नराज़गिया चुप रहकर भी जताई जाती है..


Gulzar Shayari on Love


.....

Gulzar Shayari on Yaadein


रख लो दिल में संभाल कर थोड़ी सी यादें हमारी,
रह जाओगे जब तन्हा
बहुत काम आएँगे हम |

जरुरी तो नहीं है की तुझे आँखों से ही देखूँ..
तेरी याद का आना भी तेरे दीदार से कम नहीं

आया ही था ख्याल की आँखें छलक पड़ी, आंसू किसी की याद के कितने करीब हैं |

मैंने तो तुझे भुला दिया फिर क्यों
तेरी यादों ने मुझे रुला दिया |


Gulzar Shayari on Yaadein


-×-


Thanks For Reading !! 🤗

Hope You all would have loved reading these shayaris. That's all for today, I will be back with another bunch of awesome Shayaris till then GoodBye 👋🏻 ..!!  


Moreover, In this website we have a lot more shayaris for you which can make you feel better .
To read more Shayaris ⬇️


Have one to add? Be sure to share it with us in the comments below!!


Post a Comment

Previous Post Next Post